भारत में 200 से ज्यादा तलाक की वजह बना है ये ऑनलाइन गेम

फोर्टनाइट बैटल रोयाल नामक ऑनलाइन गेम्‍स आपके दंपति जीवन में जहर घोल रहा है

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : क्‍या अाप भी ऑनलाइन गेम्‍स मे दिलचस्‍पी रखते हैं, तो इस खबर को आप जरूर पढ़ें। यदि आप शादीशुदा हैं या लव में हैं तो यह आपके लिए यह बेहद उपयोगी और सचेत करने वाली हो सकती है। जी हां, फोर्टनाइट बैटल रोयाल नामक ऑनलाइन गेम्‍स आपके दंपति जीवन में जहर घोल रहा है। यह गेम्‍स जाने-अनजाने आपके जीवनसाथी के बीच दरार डाल रहा है। मर्दों में इस गेम्‍स के प्रति गजब की दीवानगी है और यही लत जीवनसाथी से अलगाव का सबब बन रहा है।जी हां, भारत भी इस गेम से अछूता नहीं है। भारत में भी इस इस गेम्‍स के काफी दीवाने हैं। शोधकर्ताओं के मुताबिक जनवरी से अगस्‍त 2018 के बीच देश मे हुए 200 से अधिक तलाक के लिए अकेले फोर्टनाइट बैटल रोयाल गेम का नशा या लत ही जिम्‍मेदार था। यह गेम्‍स जीवनसाथी के बीच में दूरियां या अलगाव पैदा कर रहा है। ब्रिटेन में तो इस गेम्‍स को लेकर बाकायदा चेतावनी जारी की गई है। ब्रिटेन में हाल ही में हुए एक सर्वे में सोशल मीडिया और पार्न साइटों की दीवानगी को भी शादी में दरार के लिए भी दोषी ठहराया गया है।डियोर्स ऑनलाइन की यह रिपोर्ट चौंकाने वाली है। रिपोर्ट के मुताबिक ब्रिटेन में इस साल 4,665 तलाक हो चुके हैं। इनमें से लगभग पांच फीसद तलाक के लिए फोर्टनाइट बैटल रोयाल गेम काे जिम्‍मेदार माना गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि जीवनसाथी का दिन रात फोर्टनाइट बैटल रोयाल गेम से चिपके रहने के चलते पहले जीवनसाथी के बीच अनबन और बाद में अलगाव की स्थिति बनी। पीड़‍ि‍तों का कहना है कि इस गेम का नशा सिगरेट शराब से कम घातक नहीं है। प्रतिद्वंद्वियों से अागे निकलने की होड़ में पार्टनर बात करना तो दूर कई बार उनकी तरफ आंख उठाकर भी नहीं देखते।गत हफ्ते ऑक्‍सफोर्ड शायर में एक बच्‍चा सुपर हीरो बनने की ललक में छतरी लेकर अपनी बालकनी से कूद गया। उसे पक्‍का यकीन था कि गेम में दिखाए गए एक सुपर हीरो की तरह वह भी छाते के सहारे हवा में उड़ने लगेगा। लेकिन छत से गिरने के बाद उसकी मौत हो गई। विशेषज्ञों की मानें तो तो फोर्टनाइट बैटल रोयाल जैसे गेम बच्‍चों को काल्‍पनिक दुनिया में ले जा रहा है। ब्रिटेन की सरकार ने राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सेवा के विशेषज्ञाें ने ऑनलाईन गेम की लत को मनोरोगी करार दिया है। यहां के राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सेवा के विशेषज्ञ इसके शिकार युवाओं को मुफ्त इलाज की पेशकेश भी कर रहे हैं।यह गेम एक मनहूस  द्वीप पर खूद का अस्तित्‍व बनाए रखने की जद्दोजहद से जुड़ा है। इसे खेलने के लिए खिलाड़‍ियों को खुद का ऑनलाईन अवतार तैयार करना होता है। यह गेम 100 खिलाडि़यों से शुरू होता है। अलग-अलग टास्‍क पूरा कर खुद को जिंदा रखने की चुनौती होती है। तमाम बधाएं पार करके अंत तक जीवन बचने वाला विजेता घोषित किया जाता है। एंड्रायड और आइओएस फोन के अलावा घरेलू वीडियो गेम पर भी यह गेम मुफ्त में उपलब्‍ध है।दुनिया में इस खेल के प्रति दिलचस्‍पी का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि चार करोड़ लोग इस खेल के दीवाने हैं। हर महीने औसतन चार करोड़ लोग इस खेल को खेलते भी हैं। 12.5 करोड़ लोगों ने गेम लांच होने के एक साल के भीतर इस डाउनलोड भी किया। फोर्टनाइट बैटल रोयाल गेम के प्रति लोगों का जनून इस कदर है कि प्रतिद्वंद्वियों को मात देने की कोशिश में युवा गेम कोच की सेवाएं लेने से भी नहीं चूक रहे है। प्रतिद्वंद्वियों की मानसिकता समझने के लिए लोग कोच की मदद ले रहे हैं। इसके लिए ब्रिटेन में लोग 10 से 20 पाउंड यानी लगभग एक से दो हजार रुपये मासिक भुगतान कर रहे हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.