‘संजू’ को लेकर पूर्व मुंबई पुलिस कमिश्नर ने साधा राजकुमार हिरानी पर निशाना, बोले- क्रिमिनल्स की छवि नहीं चमकानी चाहिए

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : मुंबई। पूर्व मुंबई पुलिस कमिश्नर सत्यपाल सिंह ने बिना नाम लिए डायरेक्टर राजकुमार हिरानी पर निशाना साधते हुए कहा है कि ‘संजू’ में संजय दत्त की छवि नहीं चमकानी चाहिए थी। सत्यपाल, जो वर्तमान में एचआरडी स्टेट मिनिस्टर (हायर एजुकेशन) भी हैं, ने कहा, “मुझे लगता है कि क्रिमिनल्स को ग्लोरिफाई करने से बचना चाहिए। फिर चाहे वो दाऊद इब्राहिम हो या कोई और। संजय दत्त की छवि भी नहीं चमकानी चाहिए थी। सच्चाई समाज के सामने आनी चाहिए।” सिंह बोले- मैंने अब तक नहीं देखी फिल्म…

सिंह से जब मीडिया ने फिल्म ‘संजू’ पर राय मांगी तो उन्होंने कहा, “मैं फिल्में नहीं देखता और मैंने यह फिल्म भी नहीं देखी। संजय दत्त के बारे में सब जानते हैं। इस मुद्दे पर मेरी राय का सवाल ही पैदा नहीं होता।” उन्होंने यह भी कहा कि हमारे देश में लोकतंत्र है और सभी तरह की फिल्में बनानी की आजादी है।

क्रिटिक्स पहले ही ‘संजू’ को लेकर डायरेक्टर राजकुमार हिरानी पर सवाल उठा चुके हैं। जब फिल्म रिलीज हुई, तब रिव्यूज में साफतौर पर कहा गया था कि हिरानी ने एक डायरेक्टर से ज्यादा संजय दत्त के दोस्त की जिम्मेदारी निभाई है। उन्होंने पूरी फिल्म में संजय दत्त के बर्ताव को जस्टिफाई किया है। वो ड्रग्स लेते हैं क्योंकि उनके पिता उन्हें डांटते हैं, वो ड्रग्स की गिरफ्त में और बुरी तरह फंस जाते हैं क्योंकि उनकी गर्लफ्रेंड उन्हें छोड़ देती हैं…और उन्हें आतंकवादी कहा जाने लगा क्योंकि मीडिया ने झूठी खबरें चलाईं।

फिल्म में संजय दत्त कहते हैं कि अगर मेरे बारे में सच्चाई जाननी है तो जाकर सुप्रीम कोर्ट का ऑर्डर पढ़ो। ये बात सही है कि उन्हें टाडा से मुक्त कर दिया गया था लेकिन ये बात भी सच है कि उन्होंने ऐसे लोगों से हथियार लिए थे जिनका नाम मुंबई बम धमाकों में आया था। बता दें कि 1993 के मुंबई बम धमाकों के बाद संजय दत्त को गैर कानूनी रूप से हथियार रखने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। वे इस मामले में 5 साल की सजा काटने के बाद फरवरी 2016 में जेल से रिहा हुए थे। 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.