ADG पत्नी के साथ 2 घंटे तक करते रहे रुद्राभिषेक, मंदिर के बाहर इंतजार करते रहे महादेव के 10,000 भक्त

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : बिहार। मलमास समाप्ति के बाद रविवार को बिहार के मधेपुर सिंहेश्वरनाथ महादेव मंदिर में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। न्यास समिति की मानें तो लगभग 50 हजार श्रद्धालु पूजा करने आए। इसमें सुबह 9 से 11 बजे के बीच 10 हजार से अधिक श्रद्धालु आए। इन सभी को पूजा करने से रोक दिया गया क्योंकि इस समय निजी यात्रा पर आए सीआईडी के एडीजी (एडिशनल डायरेक्टर जनरल) विनय कुमार अपनी पत्नी के साथ मंदिर में रुद्राभिषेक कर रहे थे। वे दो घंटे तक रुद्राभिषेक करते रहे और बाहर श्रद्धालु उनके बाहर निकलने का इंतजार करते रहे।

  • मंदिर से बाजार तक में तैनात दिखे पुलिसकर्मी

एडीजी के अाने पर रविवार को मंदिर परिसर के अलावा बाजार में भी जगह-जगह पुलिस बल तैनात दिखे। ट्रैफिक जाम भी नहीं लगा। लोगों में चर्चा रही कि ट्रैफिक कंट्रोल के लिए सिंहेश्वर में प्रतिदिन पुलिस बल तैनात होना चाहिए। खासकर भीड़ वाले दिन रविवार, सोमवार और बुधवार को ज्यादा भीड़ होती है। इस दौरान एसपी बाबूराम भी मंदिर में माैजूद थेे।

  • श्रद्धालुओं ने कहा- भीड़ वाले दिन नहीं हो वीआईपी पूजा और रूद्राभिषेक 

स्थानीय निवासी कुंदन कुमार ने कहा, रविवार और सोमवार को श्रद्धालुओं की खासी भीड़ होती है। इस दिन खासकर सुबह से दोपहर तक को वीआईपी पूजा और रुद्राभिषेक नहीं हो। वीआईपी लोगों के पूजा करने के दौरान आम श्रद्धालुआें को रोक दिया जाता है, इससे परेशानी बढ़ जाती है। भगवान के दरबार में सभी एक समान हैं। 2 हफ्ता पहले जब यहां डीजीपी पूजा करने आए थे, तो कुछ-कुछ लोगों को धीरे-धीरे पूजा करने दिया गया था। रविवार को तो कमाल हो गया। एडीजी के आने पर लगातार दो घंटा तक श्रद्धालुओं को रोक दिया गया।

  • किसी खास के लिए श्रद्धालुओं को दो घंटे पूजा से रोकना गलत : डीडीसी मुकेश 

– सिंहेश्वर मंदिर न्यास समिति के सचिव सह डीडीसी मुकेश कुमार ने बताया, वे मधेपुरा से बाहर हैं। इसलिए उन्हें मामले की पूरी जानकारी नहीं है। हालांकि उन्होंने बताया कि मंदिर में किसी खास के लिए दो घंटे तक आम श्रद्धालुओं को पूजा करने से रोकना गलत है। भीड़ वाले दिन में रुद्राभिषेक नहीं होने के संबंध में उन्होंने कहा कि इस तरह का प्रस्ताव कभी बैठक में नहीं लिया गया है। वापस आते ही मामले की जानकारी लेते हैं।

– मंदिर न्यास के प्रबंधक उदय कांत झा ने बताया, प्रशासन को हम कुछ नहीं कह सकते हैं। उन्होंने कहा कि एडीजी के पूजा करने को लेकर दो घंटे नहीं, कुछ कम देर ही आम श्रद्धालुओं की पूजा बंद रही।

– न्यास समिति के सदस्य सरोज सिंह ने कहा कि पूजा सबके लिए बराबर है। रविवार जैसे दिन किसी वीआईपी के कारण आमलोगों के लिए दो घंटे तक पूजा रोकना सही नहीं है

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com