एक घर से निकले 111 कोबरा के बच्चे, पकड़ने आया सपेरा भी देख डरकर भागा

दो कोबरा और उसके 111 से अधिक बच्चे बरामद किए गए

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : ओडिशा के भद्रक जिले में एक मकान से दो कोबरा और उसके 111 से अधिक बच्चे बरामद किए गए हैं। 111 सांप के बच्चों को देखकर फैमिली के होश उड़ गए और उन्होंने स्नेक हेल्पलाइन को कॉल कर दिया। बड़ी मशक्कत के बाद सांप के बच्चों को वहां से निकाला गया। टीम ने बताया कि सांपों का जन्म दो से तीन दिन पहले ही हुआ था। इस बीच, इलाके में दहशत है। वन विभाग की टीम इलाके में बड़े सांपों की तलाश जुटी है। घटना श्यामपुर गांव की है। यहां पेशे से किसान बिज भुयन के घर में छह कमरे हैं। उनमें से एक में दो फीट ऊंची टरमाइट हिल है। किसान रोज वहां पूजा करके दूध चढ़ाता था। वह जानता था कि वहां सांप रहते हैं। फॉरेस्ट विभाग ने किया अलर्ट जारी…

इससे पहले भी फैमिली ने घर में सांप देखे थे। लेकिन उन्होंने कभी फैमिली को परेशान नहीं किया था। फैमिली का मानना था कि सांप उनके घर में संपन्नता ला रहे हैं। लेकिन घर में कितने सांप हैं, इस बारे में फैमिली को जानकारी नहीं थी।

बीते शनिवार को फैमिली ने दो कोबरा के बच्चे देखे तो उन्हें पकड़ने के लिए सपेरा बुलाया गया। सपेरा ने जब बच्चे पकड़ने के लिए खुदाई कि तो उसके होश उड़ गए। वहां दो नहीं, बल्कि 111 सांप के बच्चे पल रहे थे। सपेरा डर गया और उसने इतने सांप पकड़ने से इनकार कर दिया। इसके बाद स्नेक हेल्पलाइन को बुलाया गया।

फॉरेस्ट अफसर के मुताबिक, जब टीम मौके पर पहुंची तो उसके सामने नजारा अविश्वनीय था। वहां सांप नहीं, बल्कि सांपों के बंडल थे। फॉरेस्ट विभाग ने अलर्ट जारी किया है कि इलाके में और भी सांप हो सकते हैं और ये जानलेवा हैं। फिलहाल टीम ने सांपों को बस्ती से दूर जंगल में छोड़ दिया है। 

एक कोबरा 20 से 40 अंडे एक समय में देता है। इन अंडों के फूटने का समय 60 से 80 दिन का होता है। ऐसे में एक समय पर अंडे देना और उनसे एक ही समय पर इतने सारे बच्चे निकलना बहुत ही आश्चर्यजनक है। 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com