7 राज्यों में अगले 3 दिनों में आंधी-तूफान की संभावना, 5 राज्यों समेत लक्षद्वीप में चक्रवाती तूफान सागर का खतरा

चक्रवात के कारण जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, यूपी, राजस्थान, दिल्ली, उसके आसपास, पश्चिमी यूपी में अगले तीन दिनों में आंधी-तूफान आने की संभावना है।

एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): देश के कई हिस्से में आंधी-तूफान के बीच कई तटीय राज्यों को चक्रवाती तूफान सागर को लेकर चेतावनी जारी की गई है। अदन की खाड़ी में यह चक्रवात उठा है। राजधानी दिल्ली समेत उत्तर भारत के कई हिस्सों में गुरुवार को भी धूल भरी आंधी आई और बारिश हुई। इससे कई पेड़ उखड़ गए और सड़कों पर गिर गए। जिससे कई इलाकों में यातायात बाधित हुअा। मौसम विभाग ने तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, गोवा, महाराष्ट्र और लक्षद्वीप में चक्रवाती तूफान ‘सागर’ की चेतावनी दी है। मछुआरों को समुद्र से लौटने की सलाह दी गई है। मौसम विभाग के मुताबिक अदन की खाड़ी में समुद्री चक्रवात ‘सागर’ उठा है। अगले 12 घंटों में यह भारत की ओर बढ़ेगा। इससे शुक्रवार, शनिवार और रविवार को पश्चिम, दक्षिण और दक्षिण-पश्चिम हिस्सों में तेज आंधी-तूफान के साथ बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने कहा है कि इस पश्चिमी चक्रवात के कारण अगले तीन दिनों के दौरान देश के कई हिस्सों में आंधी-तूफान और बारिश होगी। हालांकि इससे गुजरात का तटीय हिस्सा ज्यादा प्रभावित नहीं होगा। चक्रवात को देखते हुए एेहतियातन राज्य के सभी बंदरगाहों पर नंबर दो सिग्नल की चेतावनी जारी की गई है। चक्रवात के कारण जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, यूपी, राजस्थान, दिल्ली, उसके आसपास, पश्चिमी यूपी में अगले तीन दिनों में आंधी-तूफान आने की संभावना है। अरब सागर के पास यमन देश में मौसम का सिस्टम बनने के बाद उठा चक्रवाती तूफान दिल्ली पहुंचा। जिससे दिल्ली में शाम को अचानक मौसम बदला और इस दौरान करीब 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलीं। मौसम विभाग के मुताबिक, शुक्रवार को भी 71 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी की संभावना है। वहीं तेलंगाना के हैदराबाद में आंधी-तूफान से 162 पेड़ उखड़ गए। इस दौरान ग्रेटर हैदराबाद में 5 सेमी बारिश दर्ज की गई। सागर तूफान के आगे बढ़कर गुजरात में भी प्रवेश करने की संभावनाएं जताई जा रही है। तूफान का सामान्यत: असर दरिया किनारे इलाके में अधिक हो सकता है। नवसारी जिले में इस खतरे के मद्देनजर गुरूवार को प्रशासन ने अलर्ट रहने की सूचना जारी किया है। तूफान के कारण दो दिन में तेज हवाओं के साथ बारिश होने की आशंका है। जिला प्रशासन ने तूफान की जानकारी मिलते ही तुरंत असर से दिशानिर्देश जारी कर 48 घंटों के लिए मछली पकड़ने पर प्रतिबंध लगाया है। इसके अलावा जिलेभर में अलर्ट घोषित कर दरिया किनारे रहने वाले लोगों को भी चेतावनी दी है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com