25 वर्षो से नगर कमेटी द्वारा गलत तरीके से कब्जाया गया है रफाय-आम एवं तृतीय श्रेणी वन भूमि को

ढालपुर में वन भूमि पर बर्दाशत नहीं किसी भी तरह का भवन निर्माण-महराजा विकास मंच

(एन एल मीडिया न्यूज़ लाइव नाउ )कुल्लू : बुधवार को महराजा विकास मंच की बैठक हुई। बैठक की अध्यक्षता मंच के अध्यक्ष बुद्धि सिंह ठाकुर ने की। बैठक में कुल्लू जिला के रफाय-आम एवं तृतीय श्रेणी वन भूमि पर हो रहे भवन निर्माणों पर आपत्ति जताई और मंच में प्रस्ताव पारित किया गया है कि ढालपुर में स्थित रफाय-आम एवं तृतीय श्रेणी वन भूमि पर लगातार वन रहे भवनों से यहां का क्षेत्र सिमट रहा है। मंच ने नगर कमेटी कुल्लू द्वारा ढालपुर स्थित बस स्टाप के पास सार्वजनिक शौचालय और वर्षाशालिका के उपर भवन निर्माण का विरोध करते हुए कहा कि नगर कमेटी लगातार भवन निर्माण करके भविष्य के लिए संकट उत्पन्न कर रही है। जिससे यहां सार्वजनिक भूमि का दायरा कम हो है।वन अधिनियम के अनुसार ढालपुर फाटी के भीतर की रफाय आम भूमि पर भार के सभी नागरिकों के घुमने फिरने का अधिकार है। कोठी फण्ड का धन मात्र महराजा कोठी के विकास कार्याे में लगेगा। महराजा विकास मंच ने इस संदर्भ में जिलाधीश कुल्लू में ज्ञापन सौंपा है। जिसमें नगर कमेटी के द्वारा यहां किसी भी तरह के भवन निर्माण पर प्रतिबंध लगाने की मांग की गई।महराजा विकास मंच के अध्यक्ष बुद्वि सिंह ठाकुर ने कहा कि महराजा तृतीय श्रेणी वन भूमि पर महराजा कोठी की जनता का पुर्ण रूप से मालिकाना हक है। वन अधिनियम में जिस कोठी फण्ड की स्थापना की है उसके अनुसार कोठी फण्ड का अध्यक्ष जिलाधीश और सचिव वन मण्डालाधिकारी है। महराजा तृतीय श्रेणी भूमि को 25 वर्षो से नगर कमेटी ने गलत तरीके से कब्जाया है। यहां महराजा कोठी फण्ड से निर्मित कुल्लू जिला पुलिस अधीक्षक का भवन, मैरीगोल्ड के साथ यहां बनी दुकानें और पार्किग स्थल में व्यवस्था खराब होने से कोठी फण्ड के बजट में धांधली हो गई है। महराजा विकास मंच अध्यक्ष ने कहा कि ढालपुर फाटी के भीतर 2 बिस्वा भूमि गरीबों को दी गई है। इसमें भी नियमों की अवहेलना हुई है। क्योकि महराजा तृतीय श्रेणी वन भूमि में ढालपुर फाटी के ही उन वाशिंदों को ही यहां भूमि दी जा सकती है। जो सन् 1911-12 से पूर्व के निवासी हैं, लेकिन यहां भी गोलमाल है। उन्होंने कहा कि महराजा विकास मंच इसकी शीघ्र ही जांच करवाएगा। भविष्य में रफाया-आम बतौर तृतीय श्रेणी वन भूमि पर किसी भी तरह के निर्माण न हो। इसलिए महराजा कोठी की जनता इसके लिए न्यायालय तक जाने को तैयार है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com