बिहार में दर्दनाक हादसा: मुजफ्फरपुर से दिल्ली जा रही बस पुल से पलट गई, प्रशासन का दावा एक भी मौत नहीं

एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम जली बस के अलावा एनएच के पास गड्ढे में शवों की तलाश में जुटी हैं।

(एनएलएन मीडिया-न्यूज़ लाइव नाऊ) : बिहार के मोतिहारी जिले के कोटवा इलाके में मुजफ्फरपुर से दिल्ली जा रही एक बस पुल से नीचे पलट गई। बस पलटने के बाद उसमें भीषण आग लग गई। एनएच-28 पर हुए इस हादसे में कई यात्रियों के मारे जाने की आशंका जताई जा रही है। हालांकि प्रशासन ने अभी एक भी मौत की पुष्टि नहीं की है। बताया जा रहा है कि बस में तकरीबन 30 लोग सवार थे।हादसे के बाद कुछ यात्री बस का शीशा तोड़कर किसी तरह बाहर निकले। मोतिहारी के डीएम रमण कुमार और एसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने अभी एक भी शव मिलने की पुष्टि नहीं की है। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम जली बस के अलावा एनएच के पास गड्ढे में शवों की तलाश में जुटी हैं। मुजफ्फरपुर पुलिस जोन IG सुनील कुमार ने हमारे सहयोगी टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, ‘बस को खींचकर बाहर निकाला गया लेकिन हमें उसके अंदर कोई शव नहीं मिला। हम राख को फरेंसिक लैब में भेजेंगे और जानने की कोशिश करेंगे कि क्या हादसे में किसी की मौत हुई है।’ IG ने यह भी बताया कि बस से 8 लोगों को सुरक्षित बचाया गया है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में चश्मदीदों के हवाले से कहा जा रहा है कि बस का ड्राइवर एक बाइक सवार को बचाने के दौरान नियंत्रण खो बैठा और बस पुल से नीचे गिर गई। बस के पलटने के बाद उसमें आग लग गई और देखते-देखते बस धू-धूकर जलने लगी। हादसे में घायल हुए कुछ यात्रियों को इलाके में मौजूद क्लिनिक में ले जाकर इलाज कराया गया। तिरहुत के कमिश्नर एचआर श्रीनिवास ने मीडिया को बताया, ‘हादसे में मरने वालों की संख्या अभी स्पष्ट नहीं हो पाई है। अब तक की जांच में पता चला है कि बस का परमिट मुजफ्फरपुर से नहीं जारी हुआ था। टूरिस्ट परमिट पर बस चलाए जाने की आशंका है। पूरे मामले की जांच की जा रही है। इस बीच घटना पर दुख व्यक्त करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा, ‘यह बेहद दर्दनाक घटना है। स्थानीय प्रशासन मौके पर मौजूद है। हम मृतकों के परिवारों को हर संभव मदद करेंगे।’

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com