धूम धाम से मनाया गया प्रदेश भर में 71वां हिमाचल दिवस,सीएम जयराम ने दी प्रदेशवासियों को ढेरों शुभकामनाएं

इस मौके पर सीएम ने स्वतंत्रता सेनानियों, प्रथम सीएम डॉ परमार का भी स्मरण किया।

(एनएलएन मीडिया-न्यूज़ लाइव नाऊ)शिमला: राजधानी शिमला के रिज मैदान पर हिमाचल दिवस मनाया जा रहा है। यह प्रदेश का 71वां स्थापना दिवस है। इस दौरान प्रदेशभर में अलग-अलग जगहों में कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इस मौके पर सीएम जयराम ने प्रदेशवासियों को ढेरों शुभकामनाएं दी हैं। जयराम ने कहा है कि हिमाचल में Air Connectivity बढ़ाने के लिए 5 नए हैलीपैड बनाए जाएंगे। शिक्षा के क्षेत्र में अध्यापकों की कमी दूर करने के लिए सीएम आदर्श विद्या केंद्र शुरू करने के लिए 25 करोड़ खर्च किए जाएंगे। इसके साथ ही जयराम ने हिमाचल की जनता से अपील की है कि प्रदेश को आगे ले जाने के लिए अपना हरसंभव सहयोग दें।
रिज पर आयोजित राज्य स्तरीय हिमाचल दिवस समारोह में सीएम ने ध्वाजारोहण के साथ प्रदेश के लोगों को शुभकामनाएं दी। 15 अप्रैल 1948 को 30 रियायतों को मिलाकर हिमाचल बना था। इस मौके पर सीएम ने स्वतंत्रता सेनानियों, प्रथम सीएम डॉ परमार का भी स्मरण किया। उन्होंने कहा कि आज का दिन उत्साह और उल्लास का दिन है। नूरपुर की दुर्घटना को याद करते हुए जयराम ने इसे बेहद दुखद बताया और हादसे पर शोक जताया। इसके साथ ही उन्होंने इराक में मारे गए चार हिमाचली युवाओं के प्रभावित परिवार के प्रति संवेदना जताई। साथ ही कांगड़ा के तीन युवाओं के नाइजीरिया से सकुशल वापस लौटने पर संतोष जताया और केंद्र सरकार का धन्यवाद किया।
सोलन के ठोडो मैदान में मनाया गया हिमाचल दिवस
सोलन के ठोडो मैदान में हिमाचल दिवस समारोह धूमधाम से मनाया गया। इस मौके पर विधानसभा अध्यक्ष राजीव बिंदल बतौर मुख्यातिथि शामिल हुए और ठोडो मैदान में पहुंचने पर उनका गर्मजोशी से स्वागत किया गया। इस मौके पर बिंदल ने आकर्षक मार्च पास्ट की सलामी ली और राष्ट्रीय ध्वज लहराया। मार्च पास्ट में पुलिस, होमगार्ड के स्कूल के अलावा एनसीसी क्रेडिट्स समेत 18 टुकड़ियों ने परेड में हिस्सा लिया।
कार्यक्रम के दौरान रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन भी किया गया जिसका उपस्थित जन समूह ने जम कर लुत्फ उठाया। वहीं राजीव बिंदल ने प्रदेश वासियों को बधाई संदेश दिया। उन्होंने अपने संदेश में कहा कि अगर भारत को फिर से विश्व गुरु बनाना है तो हिमाचल का विकास करना होगा और हिमाचल का विकास तभी सम्भव है, जब इसमें सभी साथ दें। उन्होंने कहा कि जहां आज के दिन हम सभी प्रदेश को विकास के पथ पर ले जाने वालों को श्रद्धांजलि दे रहे है।

ऊना में हर्षोल्लास से मनाया गया हिमाचल दिवस
ऊना मुख्यालय पर स्थित बाल स्कूल मैदान में जिलास्तरीय हिमाचल दिवस बड़े हर्षोल्लास से मनाया गया। जिलास्तरीय हिमाचल दिवस समारोह में हिमाचल प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री विपन परमार बतौर मुख्यातिथि उपस्थित हुए। इस अवसर पर सबसे पहले मुख्यातिथि ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया, उसके उपरान्त मुख्यातिथि ने परेड का निरिक्षण किया और मार्च पास्ट की सलामी ली। इसमें पुलिस, पुरूष होमगार्ड, महिला होमगार्ड, एनसीसी कैडेटस, स्काउट गाइड, एनएसएस के स्वयंसेवियों तथा होमगार्ड के बैंड दस्ते की टुकड़ियों ने भाग लिया।
इस दौरान सरकार द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं को दर्शाती झांकिया भी निकाली गई। इस अवसर पर मुख्यातिथि द्वारा भिन्न भिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वालो को सम्मानित भी किया। समारोह में स्कूली बच्चों ने मनमोहक प्रस्तुतियां देकर खूब तालियां बटोरी। स्वास्थ्य मंत्री ने उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित करते हुए हिमाचल दिवस की बधाई दी। इस अवसर पर मुख्यातिथि ने हिमाचल सरकार द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं और विकासात्मक कार्यों का ब्योरा भी जनता के समक्ष रखा।

धर्मशाला के पुलिस मैदान में मनाया गया हिमाचल दिवस
धर्मशाला के पुलिस मैदान में आयोजित जिला स्तरीय हिमाचल दिवस समारोह की अध्यक्षता बहुउद्देशीय परियोजनाएं एवं उर्जा मंत्री अनिल शर्मा ने की। इस अवसर पर हिमाचल प्रदेश विधानसभा उपाध्यक्ष हंस राज भी उनके साथ उपस्थित रहे। मुख्यातिथि ने सबसे पहले प्रातः 10.30 बजे शहीद स्मारक में माल्यार्पण किया तथा इसके उपरांत 11 बजे पुलिस मैदान में ध्वजारोहण तथा परेड का निरीक्षण और मार्च पास्ट की सलामी लेने के उपरांत उपस्थित जनसमूह को संबोधित किया। मार्च पास्ट में पुलिस, महिला पुलिस दल, ट्रैफिक पुलिस, होमगार्ड, एनसीसी, एनएसएस, स्काउट एंड गाइड के अलावा होमगार्ड का बैंड शामिल रहा।

मुख्यातिथि ने लोगों को हिमाचल दिवस की बधाई देते हुए अपने संबोधन में कहा कि प्रदेश ने 70 वर्षों में विकास के अनेक आयाम स्थापित किए हैं। 70 वर्षो में प्रदेश ने आशातीत प्रगति की है, जिसका श्रेय प्रदेश के मेहनती व ईमानदार लोगों के साथ हिमाचल निर्माता वाईएस परमार को जाता है। उन्होंने कहा कि हाल ही में नूरपुर की दुर्घटना ने हम सबको शोकगुल कर दिया है और दुःख की इस घड़ी हम सब प्रदेशवासी शोकाकुल परिवारों के साथ है। अनिल शर्मा ने कहा वह घायल बच्चों के जल्द स्वास्थ्य लाभ कि कामना करते हैं। उन्होंने कहा कि भविष्य में ऐसी घटना ना हो इसके लिए सरकार कड़े निर्देश लागू करने जा रही है।
उन्होंने कहा कि सरकार ने 100 दिनों के लक्ष्य निर्धारित किए थे, जिन्हें पूरा किया गया है और थोड़े ही समय में सरकार की उपलब्धियों की लंबी चोड़ी सूची बन गई है। उन्होंने कहा कि सरकार ने युवा मुख्यमंत्री जयराम के नेत्रत्व में 30 नई योजनाएं शुरू की है। अनिल ने कहा कि मुख्यमंत्री ने सभी विभागों को आदेश दिए है कि इन योजनाओं को अंतिम रूप देते हुए 1 जून 2018 तक लागू किया जाए, ताकि लोगों को इन योजनाओं का लाभ दिया जा सके। कार्यक्रम में मुख्यातिथि व अन्य लोगों के द्वारा नुरपूर बस हादसे में मारे गए बच्चों की याद में 2 मिनट का मौन रखा गया। इसके उपरांत उन्हें श्रद्धाजंलि अर्पित की गई।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com