चंद्रबाबू नायडू की मांग – आंध्र प्रदेश को दियाजाए विशेष राज्य की दर्जा

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने संसद में गुरुवार को आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा और राज्य को अन्य वित्तीय फायदे देने की मांग किये थे. एनडीए की सहयोगी पार्टी टीडीपी अभी शांत नहीं हुई है. आंध्र प्रदेश को विशेष राज्‍य का दर्जा दिए जाने की मांग को लेकर वहां के सांसदों ने लोकसभा और राज्यसभा में जमकर हंगामा किया.

आंध्र प्रदेश के तेलुगू देशम पार्टी और युवाजन श्रमिक राइथु (वाईएसआर) कांग्रेस के सांसदों ने लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन के आसन के पास पहुंचकर आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग करते हुए नारेबाजी करने लगे. लोकसभा स्‍पीकर सुमित्रा महाजन ने इन सांसदों को वापस अपनी सीट पर जाकर बैठने का आग्रह किया लेकिन वे सांसद नहीं माने.लोकसभा स्‍पीकार के बार-बार आग्रह करने पर भी जब सांसद नहीं माने तो सदन की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई.

राज्यसभा में भी आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा दिए जाने की मांग को लेकर जमकर हंगामा हुआ. सदन की कार्यवाही शुरू होनेपर, सभापति एम.वेंकैया नायडू ने सांसदों को शून्यकाल में मुद्दे उठाने को कहा लेकिन इसी बीच आंध्र प्रदेश के सांसद सभापति के नजदीक आ गए और नारेबाजी करने लगे. सभापति एम. वेंकैया नायडू के मुद्दे को सुलझाने के प्रयास बोहत किये लेकिन विफल रहे।

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू मीडिया से बातचीत के दौरान ये कहा कि आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिया जाना चाहिए, इस राज्य की भावनाओं के साथ न खेलें। उनका कहना है कि आंध्र प्रदेश के लोगों का अपमान किया जा रहा है। लोगों ने इसी वजह से कांग्रेस को सत्ता से बेदखल करके सजा दी थी। उन्होंने कहा कि पिछले 10 सालों में उन्होंने राज्य का नये सिरे से निर्माण किया है. चंद्रबाबू ने बताया कि पिछले 3.5 साल में वह 29 बार दिल्ली आए और अपने राज्य की भलाई के लिए कई मंत्रियों से मुलाकात की, लेकिन अभी तक कोई हल नहीं निकला है। उन्होंने कहा कि मुझे समझ नहीं आता कि उनके राज्य को विशेष दर्जा क्यों नहीं दिया जा रहा है। इसका जवाब केंद्र सरकार को देना चाहिए।

चंद्रबाबू ने बताया कि पिछले 3.5 साल में वह 29 बार दिल्ली आए और अपने राज्य की भलाई के लिए कई मंत्रियों से मुलाकात की, लेकिन अभी तक कोई हल नहीं निकला है। उन्होंने कहा कि मुझे समझ नहीं आता कि उनके राज्य को विशेष दर्जा क्यों नहीं दिया जा रहा है। इसका जवाब केंद्र सरकार को देना चाहिए।

चंद्रबाबू ने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि वह अपने भाषणों में आंध्र प्रदेश के लिए नई उम्मीदें जगाते हैं और विश्व स्तरीय सुविधाएं देने का वादा करते हैं, इसलिए हमें उम्मीद है कि केंद्र सरकार हमारे राज्य के साथ न्याय करेगी। कांग्रेस ने हमेशा इस राज्य के साथ अन्याय किया है।

चंद्रबाबू ने कहा कि हर मौके पर केंद्र सरकार को वह अपना समर्थन देते हैं लेकिन केंद्र की तरफ से उन्हें बेहतर रिजल्ट नहीं मिल रहे हैं। आंध्र प्रदेश के लोग खुश नहीं हैं। उन्होंने कहा कि वह आंध्र प्रदेश के लिए हमेशा लड़ते रहेंगे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com