शाह की राह में जाट बनेंगे रोड़ा, 750 ट्रैक्टरों से रैली रोकने की तैयारी

(एनएलएन मीडिया-न्यूज़ लाइव नाऊ) भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की 15 फरवरी को जींद में होने वाली बाइक रैली का रास्ता रोकने की अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति ने तैयारियां कर ली हैं. समिति की तरफ से जींद में 750 ट्रैक्टरों का अभी तक रजिस्ट्रेशन हो चुका है. वहीं, अन्य जिलों में समिति रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया चला रही है.

बता दें कि जाट आरक्षण आंदोलन में मारे गए लोगों की याद में 18 फरवरी को प्रदेश में बलिदान दिवस मनाया जा रहा है. जिसके चलते 15 फरवरी को जींद के 7 मुख्य रास्तों पर बच्चे और महिलाओं के साथ ट्रैक्टर ट्रॉली लेकर जाट पहुंचेंगे.

इस बारे में अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के राष्ट्रीय महासचिव अशोक बलहारा ने बताया कि 15 फरवरी को जींद पहुंचकर अमित शाह से प्रदेश की जनता के साथ की गई धोखाधड़ी पर जवाब मांगा जाएगा. जाट आरक्षण संघर्ष समिति के सदस्यों ने बैठक में सर्वसम्मति से रैली का विरोध किए जाने की बात कही है.

दिखाए जाएंगे काले झंडे…

जाट आरक्षण संघर्ष समिति के जिला अध्यक्ष जयबीर टिटोली का कहना है कि इस रैली के दौरान अमित शाह को काले झंडे दिखाकर विरोध जताया जाएगा. अगर पुलिस ने उन्हें रोका, तो वे बीच सड़क धरने पर बैठ जाएंगे. पूरे हरियाणा से 15 फरवरी को ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर समाज के लोग लाखनमाजरा चौक पर आएंगे.

जाटों की ये हैं पांच मांगें…

– 19 मार्च 2017 को पूरे हरियाणा में हुए जाट आरक्षण आंदोलन की मांगे प्रदेश सरकार कब तक पूरी करेंगी.

– लोकसभा में राष्ट्रीय सामाजिक और शैक्षणिक पिछड़ा वर्ग आयोग बिल पास होने के बाद जाट समाज को कितने दिनों में केंद्र में आरक्षण मिल जाएगा.

– हरियाणा सरकार में मंत्री कैप्टन अभिमन्यु पर अपने निजी हितों के लिए सरकारी पदों के दुरुपयोग करने पर लगाम लगाई जाएगी.

– भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला और अन्य भाजपा नेताओं के संघर्ष समिति की रैली पर हमला कराने के आरोपियों को संरक्षण देने के मामले की जांच कब कराई जाएगी.

– प्रदेश में भाईचारा तोड़ने वाले अपनी ही पार्टी के सांसदों और कार्यकर्ताओं पर भाजपा लगाम कब लगाएगी.

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com