हिमाचल : बर्फबारी से गिरा तापमान, पहाड़ों से भी ज्यादा ठंडे हुए मैदान

(न्यूज़ लाइव नाउ) : हिमाचल प्रदेश के ऊंचे क्षेत्रों में बर्फबारी के कारण ठंड बढ़ गई है। शुक्रवार को रोहतांग दर्रे में एक फुट ताजा बर्फबारी हुई। कुंजुंम जोत सहित बारालाचा दर्रे व शिंकुला जोत में एक फुट जबकि मनाली के स्नो प्वांइट गुलाबा में भी बर्फबारी हुई।

समस्त ऊंची चोटियों में बर्फ गिरी

किन्नौर जिले में चोटियों के अलावा लाहुल की ओर कोकसर, दारचा, लेडी ऑफ केलंग, नीलकंठ जोत सहित समस्त ऊंची चोटियों में बर्फ गिरी। चंबा जिला में भरमौर व चुराह के ऊंचाई वाले क्षेत्रों, खजियार व जोत मार्ग पर बर्फबारी हुई। प्रदेश में कई जगह धूप खिलने के बावजूद ठंड रही। प्रदेश में 11 जनवरी तक मौसम शुष्क रहने की संभावना है।



मैदानी क्षेत्रों में ज्यादा ठंड

प्रदेश के ऊपरी क्षेत्र कल्पा में आधा फुट बर्फबारी दर्ज की गई। केलंग में न्यूनतम व अधिकतम तापमान जमाव बिंदू से नीचे है। इन दिनों प्रदेश के मैदानी क्षेत्रों में ज्यादा ठंड है। सुबह व शाम शुष्क ठंड के कारण लोग बीमार हो रहे हैं। प्रदेश में शुक्रवार को सबसे कम तापमान केलंग में -8.0 डिग्री सेल्सियस जबकि अधिकतम तापमान बिलासपुर जिला के बरठीं में 23.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। बीते दिनों को देखते हुए अधिकतम व न्यूनतम तापमान में 2 से 3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है। वीरवार को प्रदेश का अधिकतम तापमान 23.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया जबकि न्यूनतम तापमान केलंग में माईनस 9.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

आने वाले दिनों में ठंड बढ़ेगी

हिमाचल में सक्रिय हुई पश्चिमी हवाओं से आने वाले दिनों में ठंड बढ़ेगी। राज्य में पश्चिमी हवाओं का असर दिखना शुरू हो गया है और समूचा राज्य शीत लहर की चपेट में है। राज्य के मैदानी क्षेत्र पहाड़ों की रानी शिमला से भी ठंडे हो गए हैं। सोलन, ऊना, और सुंदरनगर का न्यूनतम तापमान शिमला से एक से तीन डिग्री सेल्सियस कम चल रहा है। राज्य के मैदानी क्षेत्रों में धुंध का कहर भी शुरू हो गया है।

बर्फबारी का दौर जारी

मौसम विभाग के अनुसार पश्चिमी हवाओं के सक्रिय होने के कारण बर्फबारी का दौर जारी हो गया है। मगर इसके बाद मौसम साफ हो जाएगा और दो दिनों तक धूप खिली रहेगी। आठ जनवरी को एक और पश्चिमी हवा हिमाचल की ओर करेंगी, जिससे राज्य में मौसम परिवर्तन लेगा और बारिश और बर्फबारी होती रहेगी। इस दौरान व्यापक बारिश और बर्फबारी होने की उम्मीद है। मौसम के बदलते रुख को देखते हुए लगता है किसर्दी का प्रकोप अभी अपना असर दिखाता रहेगा।

ठंडी हवा ने किरकिरा किया धूप का मजा

शिमला में शुक्रवार को दिन की शुरुआत खिली धूप के साथ हुई। दिनभर धूप खिली रही लेकिन ठंडी हवा ने धूप का मजा किरकिरा कर दिया और लोग ठंड से ठिठुरते रहे। भले ही जिला में बारिश व बर्फबारी न हुई है लेकिन तापमान में लगातार गिरावट जारी है। पानी ने पाले का रूप धारण कर लिया है। इस कारण पेयजल संकट भी पैदा हो गया है। शिमला में शुक्रवार को कुछ क्षेत्रों में पानी की पाइपें जाम होने के कारण




पेयजल की किल्लत का सामना करना पड़ा।

जिले में मौसम विभाग की हर भविष्यवाणी फेल साबित हो रही है। जब विभाग बर्फबारी की भविष्यवाणी करता है तो धूप खिल रही है और जब मौसम साफ होने की बात की जाती है तो आसमान में बादल छा जाते हैं। विभाग ने जो कह दिया, वातावरण में वह फेरबदल देखने को नहीं मिल रहा है। समय से पहले ठंड बढ़ने

के बाद अच्छी बर्फबारी के दावे इस वर्ष जिला शिमला में किए जा रहे थे। लेकिन खिली धूप से यह सारे दावे खोखले साबित हो रहे हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com