पिछले 60 साल में क्रिकेट का वर्तमान भारतीय आक्रमण सर्वश्रेष्ठ : इरापल्ली प्रसन्ना

खेल के सर्वश्रेष्ठ स्पिन आक्रमण में से एक का हिस्सा रहे पूर्व महान खिलाड़ी इरापल्ली प्रसन्ना ने भारत के मौजूदा गेंदबाजी समूह को पिछले 60 से 70 साल में सर्वश्रेष्ठ करार दिया है। भारत के 7 गेंदबाजों के आक्रमण में 5 तेज गेंदबाज शामिल हैं, जिनमें से 4 नियमित तौर पर 140 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से गेंदबाजी करते हैं। यही कारण है कि प्रसन्ना चाहते हैं कि विराट कोहली दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट में पांच गेंदबाजों के साथ उतरे।




प्रसन्ना ने कहा, भारत के पास दुनिया के सर्वश्रेष्ठआक्रमण में से एक है। मुझे तो लगता है कि अतीत की भारतीय में मौजूदा टीम जैसा आक्रमण था ही नहीं। यह संभवत: सर्वश्रेष्ठ है जो पिछले 60-70 साल में मैंने देखा है। प्रसन्ना ने कहा कि मौजूदा आक्रमण को देखते हुए भारत को अंतिम एकादश में 5 गेंदबाजों के साथ उतरना चाहिए। भारतीय टीम के हालांकि पहले मैच में 3 तेज गेंदबाजों और एक स्पिनर के साथ उतरने की संभावना है।

प्रसन्ना ने कहा, मेरा हमेशा से मानना है कि अगर आपको जीतना है तो पांच गेंदबाज जरूरी हैं। अतिरिक्त बल्लेबाज को खिलाने का तर्क गेंदबाजों पर भी लागू होता है। उन्होंने कहा, अगर आप अतिरिक्त बल्लेबाज खिलाते भी हो तो भी एक या दो ही बड़ा स्कोर खड़ा करते हैं। संभावना है कि अगर शीर्ष 5 विफल हो गए तो छठा भी विफल हो जाए।

भारत के लिए 49 टेस्ट में 189 विकेट हासिल करने वाले प्रसन्ना ने कहा, इसी तरह अगर आप पांच गेंदबाज चुनो तो अधिकांश समय एक या दो लय में नहीं होंगे और गेंदबाजी आक्रमण के प्रभावी होने के लिए आपको कम से कम तीन गेंदबाज चाहिए जो हमेशा अच्छी गेंदबाजी करें। ऐसे में पांचवें गेंदबाज को चुनने से मदद मिलती है।

भारत ने टीम में 5 विशेषज्ञ तेज गेंदबाजों को चुना है जिसमें इशांत शर्मा, उमेश यादव, मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार के अलावा जसप्रीत बुमराह को पहली बार टीम में जगह दी गई है। रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा 2 स्पिनर हैं, लेकिन पूरी संभावना है कि दोनों में से एक ही पहले टेस्ट में खेलेगा। प्रसन्ना ने कहा कि ऐसी स्थिति में अश्विन पहले टेस्ट में खेलने के प्रबल दावेदार होंगे।





उन्होंने साथ ही दोनों टीमों की तुलना करने से इनकार करते हुए कहा कि भारत के पास दक्षिण अफ्रीका में पहली टेस्ट सीरीज जीतने का अच्छा मौका है। उन्होंने कहा, यह संतुलित टीम है और खिलाड़ियों की मानसिकता सकारात्मक है। इस टीम के बारे में मुझे जो चीज सबसे अच्छी लगती है वह यह है कि वे किसी टीम से नहीं डरते। प्रसन्ना ने कहा, अगर बल्लेबाज पहली पारी में नियमित रूप से 350 रन बनाते हैं तो फिर आधी जंग जीत ली जाती है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com