नाना अच्छे एक्टर, लेकिन हमें ये न बताएं क्या करना है- राज ठाकरे

0 77

मुंबई में फेरीवालों को लेकर राज ठाकरे और नाना पाटेकर आमने-सामने हो गए हैं. राज ठाकरे जहां सार्वजनिक स्थानों के बाहर फेरीवालों को जगह दिए जाने के खिलाफ हैं, वहीं नाना इसका विरोध कर रहे हैं. नाना पाटेकर ने एक इवेंट में कहा, इतने सालों से महानगरपालिका प्रशासन फेरीवालों को जगह नहीं दे पाई है. इस सबके लिए महानगरपालिका जिम्मेदार है, न कि फेरीवाले. फेरीवाले तो अपनी रोजीरोटी के लिए काम कर रहे हैं.

इसके जवाब देते हुए राज ठाकरे ने कहा है, नाना अच्छे एक्टर हैं, लेकिन उन्हें उस बारे में कुछ नहीं बताना चाहिए, जिसकी उन्हें जानकारी न हो. यदि उन्हें लगता है कि फेरीवालों का ध्यान रखना सरकार का काम है तो उन्होंने अपना फाउंडेशन (NAAM)क्यों शुरू किया? सरकार का काम है कि वह हर व्यक्त‍ि तक पानी पहुंचाए. सरकार से इस काम के लिए क्यों नहीं कहा जाता?

ठाकरे ने नाना की मिमिक्री करते हुए उनकी फिल्म ‘वेलकम’ का उल्लेख किया. बता दें कि नाना ने इस फिल्म में फेरीवाले का किरदार निभाया था. राज ने कहा, ‘मतलब फेरीवालों पर नाना को रहम आ गया.’

बता दें कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने कुछ दिन पहले स्टेशन और आसपास स्टॉल लगाने वाले फेरीवालों के साथ मारपीट और तोड़फोड़ की थी. तबसे यह मामला चर्चा में है.

संजय निरुपम ने किया नाना का स्वागत

मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम ने फेरीवालों के लिए आंदोलन भी शुरू किया है. नाना के फेरीवालों का समर्थन करने का संजय ने स्वागत किया है. संजय निरुपम ने उनका आभार माना है. निरुपम ने ट्वीट कर कहा कि फेरीवालों की समस्या हो जानने के लिए, उनके संघर्ष का साथ देने के लिए नाना पाटेकर का अभिवादन करता हूं.

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Bitnami