यूएस ने सैन्य कार्रवाई की तो नॉर्थ कोरिया के लिए होगा ‘बुरा दिन’

0 47

अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने गुरुवार को कहा कि वह नॉर्थ कोरिया के परमाणु परीक्षणों के खिलाफ किसी भी तरह की सैन्य कार्रवाई से बच रहे हैं लेकिन अगर उन्होंने ऐसा किया तो निश्चित तौर पर वह उत्तरी कोरिया के नेतृत्व के लिए ‘बेहद बुरा दिन’ होगा।

ट्रंप ने एक बार फिर नॉर्थ कोरिया के छठे परमाणु बम परीक्षण के खिलाफ किसी भी तरह की सैन्य कार्रवाई की आशंका को खारिज किया है क्योंकि ट्रंप प्रशासन उत्तरी कोरिया के खराब बरताव को रोकने के लिए उसपर और अधिक आर्थिक प्रतिबंध चाहता है। ट्रंप से एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पूछा गया कि सैन्य कार्रवाई भी एक विकल्प हो सकता है, क्या यह निश्चित है? ट्रंप ने इसके जवाब में कहा, ‘कुछ भी निश्चित नहीं है। मैं किसी भी तरह की सैन्य कार्रवाई न करने को तरजीह दूंगा। अगर हमने उत्तर कोरिया पर सैन्य कार्रवाई की, तो वह उसके लिए बहुत खराब दिन साबित होगा।’

ट्रंप के यह कहने के बावजूद कि अब नॉर्थ कोरिया से बातचीत का समय नहीं है, उनके प्रशासन के वरिष्ठ सदस्यों ने यह स्पष्ट कर दिया है कि कूटनीतिक समाधान के दरवाजे खुले हैं। ट्रंप के कड़े बयानों के बीच चीन ने भी गुरुवार को कहा कि संयुक्त राष्ट्र को प्योंगयांग के खिलाफ और कार्रवाई करने की जरूरत है। हालांकि, पेइचिंग ने बातचीत के जरिए तनाव कम करने पर भी बल दिया।

दूसरी ओर, लगातार मिसाइल और परमाणु हथियारों के परीक्षण कर रहे नॉर्थ कोरिया ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय की निंदा की अनदेखी कर कहा है कि वह संयुक्त राष्ट्र द्वारा लगाए जाने वाले किसी भी नए प्रतिबंध और अमेरिकी दबाव का जोरदार जवाब देगा। नॉर्थ कोरिया ने अमेरिका पर युद्ध के लिए उकसाने का भी आरोप लगाया है।

अमेरिका चाहता है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद नॉर्थ कोरिया पर तेल प्रतिबंध, उसके कपड़ों के आयात और उत्तरी कोरियाई श्रमिकों को काम देने पर प्रतिबंध लगे। साथ ही उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन की संपत्ति को फ्रीज करने और यात्रा पर रोक लगाने की भी मांग की है। इस संबंध में अमेरिका ने एक मसौदा प्रस्ताव तैयार किया है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Bitnami