वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप: फाइनल में हारीं सिंधु, सिल्वर मेडल से करना पड़ा संतोष

0 107

नई दिल्ली
ओलिंपिक रजत पदक विजेता भारत की पीवी सिंधू को आज यहां विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप के महिला एकल फाइनल में जापान की नोजोमी ओकुहारा के खिलाफ रोमांच की पराकाष्ठा पर पहुंचे मैच में शिकस्त के साथ रजत पदक से संतोष करना पड़ा और साथ ही वह इस खेल में देश की पहली विश्व चैंपियन बनने से भी चूक गई।

इस मुकाबले में दोनों ही खिलाड़ियों के बीच कड़ा संघर्ष देखने को मिला। 110 मिनट तक चला यह मैच फिटनेस, पावर गेम और लंबी रैली का सुंदर नजारा था।

सिंधु पहली बार वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंची थी। इससे पहले उन्होंने 2013 और 2014 में ब्रॉन्ज मेडल जीता था। दोनों ही बार वह सेमीफाइनल में हारी थीं।

ओकुहारा ने मैच का पहला पॉइंट जीता। इसके बाद जल्द ही सिंधु ने 2-1 की बढ़त बना ली। सिंधु पहले गेम में 3-5 से पीछे थीं लेकिन शानदार गेम दिखाते हुए उन्होंने लगातार 8 पॉइंट जीतकर इंटरवल तक 11-5 की बढ़त बना ली।

ओकुहारा ने इससे पहले सेमीफाइन में भारत की ही एक अन्य दिग्गज खिलाडी साइना नेहवाल को हराया था। साइना ने कांस्य पदक जीता और इस तरह भारत के लिए यह विश्व चैंपियनशिप यादगार रही और देश इतिहास रखते हुए पहली बार इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता में दो पदक जीतने में सफल रहा।

यह दोनों की बीच सातवीं भिड़ंत थी, जिसमें ओकुहारा ने चौथी बार जीत दर्ज की है। ओकुहारा जापान के लिए विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली महिला हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Bitnami