मीसा भारती ने BJP से पूछा-सेक्स रैकेट चलाने और ISI की ट्रेनिंग आप कहां से लेते हैं

0 88

पटना । राजद अध्यक्ष लालू यादव की सबसे बड़ी संतान और राज्यसभा से सांसद मीसा भारती ने ट्वीट कर बीजेपी से पूछा है कि आपलोग अॉनलाइन सेक्स रैकेट चलाने और आइएसआइ की दलाली की ट्रेनिंग कहां से लेते हैं?

मीसा भारती ने अपने ट्वीट में लिखा है कि आइएसआइ की दलाली से लेकर देह व्यापार तक के संस्कार इन भाजपाईयों में आते कहाँ से आते हैं? इसकी इन्हें किस ब्रांच में ट्रेनिंग दी जाती है।

ISI की दलाली से लेकर देह व्यापार तक के संस्कार इन भाजपाईयों में आते कहाँ से हैं ? किस ब्रांच में ट्रेनिंग होती है

दरअसल मध्य प्रदेश की साइबर पुलिस ने राजधानी भोपाल के पॉश इलाके अरेरा कॉलोनी में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है। मामले में भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी नीरज शाक्य को आठ साथियों के साथ गिरफ्तार किया गया है। इनके चंगुल से महाराष्ट्र और मेघालय से आईं चार लड़कियों को भी छुड़ाया गया है।

एमपी पुलिस को सूचना मिली थी कि भोपाल में ऑनलाइन वेबसाइट के जरिए सेक्स रैकेट का धंधा चल रहा है। जब पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू किया तो सारे मामले सही पाए गए। इस काम में लगे लोग वेबसाइट बनाकर ग्राहकों से ऑनलाइन बुकिंग कराते हैं फिर उन्हें लड़कियां सप्लाई करते हैं।

सेक्स रैकेट का यह कारोबार शहर के पॉश इलाके के अरेरा कॉलोनी के अशोका सोसायटी से चल रहा था। पुलिस ने यहां पर छापेमारी कर 9 लोगों को गिरफ्तार कर लिया था।

पुलिस की माने तो गिरोह के लोग अलग-अलग वेबसाइट खासकर नौकरी से संबंधित वेबासाइट से डाटा लेकर लड़कियों का बायोडाटा खंगालते थे। उन्हें नौकरी का झांसा देकर पहले भोपाल बुलाते थे। फिर उन्हें रिसेप्शन, कॉल सेंटर, ब्यूटी पार्लर समेत प्राइवेट सेक्टर की कई नौकरियों का लालच देकर उन्हें अपनी जाल में फंसा कर उन्हें देह व्यापार के धंधे में धकेल दिया जाता था।

पुलिस ने कहा कि जिस वेबसाइट के जरिए ये लोग अपना गोरखधंधा चलाते थे वो दिल्ली में रजिस्टर्ड है। पुलिस ने ये भी बताया कि इस गोरखधंधे का सरगना सुभाष नाम का शख्स है जो फरार है, जबकि गिरफ्तार नीरज शाक्य मध्य प्रदेश बीजेपी एससी मोर्चा का मीडिया प्रभारी है।

बताते चलें कि इसी साल फरवरी में मध्य प्रदेश भाजपा आईटी सेल के नेता को आंतकवाद निरोधी दस्ते ने जासूसी कांड में गिरफ्तार किया गया था। इस मामले में ध्रुव सक्सेना समेत 11 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। इन पर अवैध टेलीफोन एक्सचेंज चलाने के भी आरोप थे। मामला उजागर होने के बाद पार्टी ने नीरज शाक्य को पार्टी से बाहर निकाल दिया था।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Bitnami