IPL Playoff : पहले क्वालिफायर में मुंबई का सामना पुणे से, यह हैं टीमों के मजबूत और कमजोर पक्ष…

0 274

मुंबई: IPL के सीजन 10 में मंगलवार से फाइनल में पहुंचने के लिए टीमों के बीच ‘जंग’ की शुरुआत होगी. पहले मुकाबले में लीग चरण में पहले नंबर पर रही मुंबई इंडियन्स टीम और दूसरे नंबर पर काबिज राइजिंग पुणे सुपरजायंट भिड़ेंगी. पहली बार प्लेऑफ में पहुंची पुणे टीम के लिए राहत की खबर यह है कि उसने लीग दौर में मुंबई को दो बार हराया है. ऐसे में उसके पास मनोवैज्ञानिक बढ़त होगी. हालांकि टीम सयोजन के लिहाज से पुणे के कप्तान स्टीव स्मिथ की टेंशन बढ़ी हुई है, वहीं मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा अपने टीम संयोजन को लेकर निश्चिंत हैं. आइए जानते हैं दोनों ही टीमों के मजबूत और कमजोर पक्षों के बारे में…

मुंबई इंडियन्स 20 अंक के साथ टॉप पर है, जबकि राइजिंग पुणे सुपरजायंट के 14 मैचों में 18 अंक हैं और वह दूसरे स्थान पर है. क्वालिफायर-1 में दोनों ही टीमें मुंबई के वानखडे स्टेडियम में भिड़ेगी. इस मैच में जो टीम जीतेगी वह सीधे फाइनल में पहुंच जाएगी. इसमें हारने वाली टीम को एलिमिनेटर में जीतने वाली टीम के खिलाफ खेलने का एक और मौका मिलेगा. मतलब टॉप टू टीमें पहला मैच हारने के बाद भी वह फाइनल के दौड़ से बाहर नहीं होंगी.

मुंबई का मजबूत पक्ष
मुंबई टीम लीग चरण में पुणे के हाथों 2 बार मिली हार का बदला चुकता करने चाहेगी. उसे घरेलू दर्शकों का समर्थन भी मिलेगा. मुंबई का मजबूत पक्ष यह है कि उसे एक-दो खिलाड़ियों के बाहर होने से फर्क नहीं पड़ता. जैसा कि हमने आखिरी लीग मैच में कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ देखा था. मुंबई ने इस मैच में अब तक नहीं खेले खिलाड़ियों को मौका दिया था और केकेआर को हराकर शीर्ष स्थान पर कब्जा कर लिया था. पूरे सीजन में मुंबई इंडियन्स के बल्लेबाजों खासतौर से नीतीश राणा, लेन्डल सिमंस, कीरन पोलार्ड, पार्थिव पटेल ने शानदार खेल दिखाया है, वहीं  हार्दिक पांड्या और उनके भाई क्रुणाल पांड्या टीम के लिए ट्रंप कार्ड साबित हुए हैं. डैथ ओवरों में जसप्रीत बुमरा का प्रदर्शन अच्छा रहा है . हार्दिक और वह मिलकर पुणे के बल्लेबाजों पर अंकुश लगा सकते हैं .

मुंबई का कमजोर पक्ष
मुंबई के लिए कप्तान रोहित शर्मा का फॉर्म में नहीं होना कमजोर कड़ी साबित हो सकता है. उन पर कप्तानी के साथ अच्छी पारी खेलने का भी दबाव होगा. रोहित लीग मैचों में पुणे के खिलाफ अच्छी रणनीतित नहीं बना पाए थे. गेंदबाजी भी बेहतर करनी होगी, क्योंकि उन्होंने पिछले मैच में 200 से अधिक रन लुटा दिए थे. श्रीलंका के लसिथ मलिंगा नई गेंद से महंगे साबित हुए हैं. उनका फॉर्म में आना जरूरी है. वैसे भी वानखेड़े स्टेडियम की पिच बल्लेबाजों की ऐशगाह है लिहाजा बड़ा स्कोर बनने की उम्मीद है.

पुणे का मजबूत पक्ष
पुणे के लिए बल्लेबाजी तो उतनी खास नहीं रही और केवर राहुल त्रिपाठी, कप्तान स्टीव स्मिथ और बेन स्टोक्स ही जमकर खेल पाए हैं, लेकिन गेंदबाजी उनक शानदार रही है. उसके तेज गेंदबाजों जयदेव उनादकट (21 विकेट), शार्दुल ठाकुर (8 विकेट) और डैनियल क्रिश्चियन (9 विकेट) ने अच्छा प्रदर्शन किया है, वहीं स्पिन में ऑस्ट्रेलिया के एडम जम्पा पिछले कुछ मैचों से अच्छा खेल रहे हैं.

पुणे का कमजोर पक्ष : बेन स्टोक्स का लौटना
पुणे की ओर से ओपनर अजिंक्य रहाणे का नहीं चलना चिंता का विषय है. इस बीच उनके लिए बुरी खबर यह है कि ऑलराउंडर बेन स्टोक्स भी स्वदेश लौट गए हैं. ऐसे में बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों पर फर्क पड़ेगा.

इसलिए खलेगी स्टोक्स की कमी
बेन स्टोक्स ने इस आईपीएल में गेंद, बल्ले के साथ-साथ फील्डिंग से भी खासा प्रभावित किया. उन्होंने तीनों ही विभागों में अपने प्रदर्शन से समां बांध दिया. उन्होंने 11 मैचों में 316 रन बनाए, वहीं गेंदबाजी में 12 विकेट झटके. उन्होंने कई करिश्माई कैच भी लपके.टीम को हालांकि इंग्लैंड के बेन स्टोक्स की कमी खलेगी जो स्वदेश लौट गए हैं .

मुंबई और पुणे के इस मुकाबले में विजेता टीम सीधे 21 मई को हैदराबाद में होने वाले फाइनल में जगह बनाएगी जबकि हारने वाली टीम 19 मई को बेंगलूरू में दूसरा क्वालिफायर खेलेगी.

टीमें इनमें से चुनी जाएंगी:
मुंबई इंडियंस : रोहित शर्मा (कप्तान), जसप्रीत बुमराह, जॉस बटलर, श्रेयस गोपाल, कृष्णप्पा गौतम, असेला गुणारत्ने, मिचेल मैक्लिनेघन, लसिथ मलिंगा, हार्दिक पांड्या, क्रुणाल पांड्या, पार्थिव पटेल, कीरन पोलार्ड, निकोलस पूरन, दीपक पुनिया, नीतीश राणा, हरभजन सिंह, मिचेल जॉनसन, कुलवंत के, सिद्धेश लाड, अंबाती रायडू, जितेश शर्मा, कर्ण शर्मा, लेंन्डल सिमंस, टिम साउदी, जगदीशा सुचित, सौरभ तिवारी, विनय कुमार.

राइजिंग पुणे सुपरजायंट : स्टीव स्मिथ (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, महेंद्र सिंह धोनी, डेनियल क्रिश्चियन, लॉकी फर्ग्यूसन, जसकरण सिंह, उस्मान ख्वाजा, सौरभ कुमार, बेन स्टोक्स, वाशिंगटन सुंदर, मिलिंद टंडन, मनोज तिवारी, एडम जम्पा, जयदेव उनादकट, ईश्वर पांडे, राहुल त्रिपाठी, शारदुल ठाकुर, अशोक डिंडा, मयंक अग्रवाल, अंकित शर्मा, बाबा अपराजित, अंकुश बैंस, रजत भाटिया, दीपक चाहर, राहुल चाहर.

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Bitnami