अमेठी: मां के प्रेमी के संग मिलकर बेटे ने सगे बाप को मार डाला

0 290

अमेठी: ढाई माह पूर्व पत्नी ने आशिक व बेटे के साथ मिलकर पति को मौत के घाट पहुंचा दिया था। फिर सबूत मिटाने के लिए आशिक और बेटे की मदद से घर से 30 किलोमीटर दूर हाईवे के किनारे उसकी लाश को फेंक दिया। इस मामले में अमेठी पुलिस ने मृतक के पिता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया। छानबीन के बाद आज जब पुलिस ने खुलासा किया तो सभी की आंखें फटी की फटी रह गई। पुलिस के खुलासे में आरोपी पत्नी उसके आशिक व उसके एक साथी एवं मृतक के बेटे ने अपना जुर्म कुबूल किया। पुलिस ने सभी आरोपियों को अब गिरफ्तार कर जेल भेजा है।

इस जगह पर मिली थी लाश 21 फरवरी को मुसाफिरखाना कोतवाली के कादूनाला स्थित पूरे प्रेमशाह के पास सड़क किनारे जिले में तैनात सिपाही फहीम की लाश मिली थी। लाश के करीब में ही एक स्कूटी भी टूटी हुई अवस्था में पाई गई थी, इससे पुलिस से लेकर हर कोई इसे एक्सीडेंट मान रहा था। फिलहाल पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा था और मृतक के पिता मोहम्मद अयूब की तहरीर पर 279 और 304A के तहत मामला दर्ज किया था। इसके बाद एसपी अमेठी अनीस अहमद अंसारी ने एडिशनल एसपी राहुल राज और सीओ मुसाफिरखाना को मामले के खुलासे के लिए लगाया था। ढाई माह के प्रयास के बाद पुलिस की पूरी टीम को मंगलवार को बड़ी सफलता हाथ लगी। पुलिस ने मृतक सिपाही फहीम की पत्नी परवीन बानों और उसके आशिक चांद बाबू को हिरासत में लिया। दोनों से अलग-अलग पूछताछ करने पर पुलिस के सामने जो तथ्य सामने आए उसे सुनकर पुलिस भी दंग रह गई।
इस कहानी के तहत अंजाम पाई वारदात पुलिस के मुताबिक़ 20 फरवरी की रात सिपाही फहीम जब ड्यूटी कर रात को घर पर पहुंचा तो यहां पत्नी परवीन ने पहले उसे खाने में नींद टैबलेट देकर उसे बेहोश कर दिया था। इसके बाद तकिये से पत्नी परवीन और उसके आशिक चांदबाबू ने मुंह दबाकर उसे मौत के घाट उतार दिया था। यहां से साक्ष्य मिटाने के लिए आशिक चांदबाबू ने मृतक के बेटे मोहम्मद कैफ के साथ लाश को स्कूटी पर लादा और सीधे मुसाफिरखाना के कादूनाला के पास स्थित पूरे प्रेमशाह के पास सड़क किनारे उसे डाला। यही नहीं लोगों के शक को दूर करने के लिए यहां चांदबाबू ने सिपाही फहीम के सर पर हथौडे से प्रहार किया और फिर स्कूटी को क्षतिग्रस्त करते हुए लाश के बगल में डाल दिया। सारी वारदात को अंजाम देने के बाद चांदबाबू ने अपने दोस्त अरविंद उर्फ गल्लूचा को यहां बुलाया, जो अपनी पल्सर बाइक से मौके पर पहुंचा और दोनों को ले जाकर घर पर छोड़ा।

पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर भेजा जेल एसपी अमेठी अनीस अहमद अंसारी ने बताया कि मृतक फहीम को पत्नी परवीन और चांदबाबू के सम्बन्ध का ज्ञान हो चला था। जिसको लेकर इन सभी ने ये ताना बाना बुना। उन्होंने बताया कि सभी आरोपियों के विरूद्ध धारा 302, 201, 120B के तहत मुकदमा दर्ज कर उन्हे जेल भेजा गया है।

 

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Bitnami