देवी भागवत – इन 7 लोगों पर पलभर का विश्वास पड़ता है भारी, कभी भी दे सकते हैं धोखे

0 244

देवी भागवत महापुराण देवी दुर्गा पर आधारित सबसे महत्वपूर्ण ग्रंथों में से एक है। इसमें देवी भगवती के सभी अवतारों और चमत्कारों के बारे में विस्तार से बताया गया है। इस महापुराण में देवी भगवती ने ऐसे 7 लोगों के बारे में कहा है, जिन पर कभी भरोसा नहीं करना चाहिए। ये 7 लोग अपने जीवन में परेशानी और दुःखों का कारण बन सकते हैं।

१) दुशरों  का दुख देखकर सुखी होने बाला 

दूसरों  के परेसानी या दुःख  देखकर सुख होने वाले महादुष्ट होते हने । वो हर समय दुशरों के बारे में सोचता ह्नै । ऐसे में वे खुद के साथ साथ आपके लिए भी परेसानी का कारन बन सकते ह्नै

२) पराई स्त्री पर मन रखने वाला 

जो हर समय पराई स्त्रियों के आगे – पीछे घूमता है , ऐसे व्यक्ति के मन में बुरी भावना यें उत्तपन्न होती रहती  हे । वह अपनी इच्छायों को पूरा करने के लिए किसी भी हद तक  जा सकता है, उन पर कभी भी भरोसा नहीं करना चाहिए

३) लालच या लोभ रखने वाले 

लालची मनुष्य भरोसा के काबिल नहीं होता हे । लालची इंसान आपने फायदे के लिए किसी साथ  भी धोखा कर सकता हैं । ऐसे  लोग अप्पने मतलब को पूरा करने के लिए आपको भी परेसानी में दाल सकते ह्नै । 

४) बदले या जालने की भावना रखने वाले 

दुशरों के प्रति जलन या  बदले की भावना रखने वाले कपटी , पापी , धोखा देने वाला होता हे । उनके लिए सही-गलत के पैमाने नै होते । ऐसे  व्यक्ति पर विस्वाश करना बड़ी परेसानी का कारन बन सकता है ।

५) नास्तिक 

कई लॊग भगवान और धर्म में आस्था नहीं रखते । ऐसा व्यक्ति धर्म और सहत्रों में बिस्वास ना होते की वजह से अधर्मी और पापी होता ह्नै  । वह खुद से संभंध रखने वाले का ब्याबहार भी अपने सामान कर देता है

६) छल – कपट  करे वाला 

कपटी  इंसान अपना मतलब पूरा करने के लिए किसी के साथ गलत काम करे में नहीं हिचकिचाते  । ऐसे लोगो के मान किसी के भी प्रति न तो अपनेपन होती है  न ही प्रेम की । ऐसे आदमी की बातें पर या उस पर कभी भरोसा न करे

७) अहंकारी व्यक्ति 

अहंकार में मनुष्य को अछे -बुरे का होस नही रहता । अहंकार के कारन इंसान दुसरों की सलाह नहीं मानता और अपनी गलती स्वीकार नहीं करता । ऐसा व्यक्ति परिबार  और दोस्तों को दुःख देता है , उस पर कभी भरोसा  न करें

 

 

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Bitnami