25 मार्च से गायब,11वीं कक्षा के छात्र-छात्रा नदी किनारे मृत मिले, लड़की के परिवार वालों पर संदेह

0 168

 

News Live Nowहिमाचल प्रदेश: पंडोह—मंडी जिला की घ्राण पंचायत के बिहनधार से लापता नाबालिग छात्र और छात्रा के शव लगभग छह दिन बाद ब्यास से छह मील के पास बरामद हुए हैं। पहले पुलिस को ब्यास नदी में लड़की का शव मिला, जिसकी पहचान सुनिता निवासी घ्राण के रूप में हुई। पुलिस ने जब छानबीन की तो लड़की के शव से लगभग 500 मीटर दूर एक लड़के का शव भी बरामद किया गया, जिसकी पहचान चंद्रेश निवासी स्प्रेई के रूप में की गई। दोनों युवाओं के शव सरकारी स्कूल की ड्रेस में बरामद हुए हैं, जिससे इलाके में दहशत का माहौल है। पुलिस और परिवार के लोग कई दिनों से दोनों नाबालिगों की तलाश कर रही थे, लेकिन दोनों नाबालिगों की यूं मौत के बाद इस मामले में भी अब नया मोड़ आ गया है। माना जा रहा है कि ये सारा मामला प्रेम प्रसंग का है। जानकारी के अनुसार मृतक सुनिता के परिजनों ने बीती 25 मार्च को अपनी लड़की को किसी के द्वारा अगवा करने की शिकायत महिला थाना मंडी में दर्ज करवाई थी, जोकि ग्यारवीं की छात्रा थी और आखिरी पेपर देने के बाद से घर नहीं आई थी। वहीं 29 मार्च को चंदेश के परिजनों ने भी बेटे के नाबालिग होने के कारण उसको अगवा करने की रिपोर्ट सदर थाना मंडी में दर्ज करवाई थी। दोनों ही पंडोह के सरकारी स्कूल में साथ पढ़ते थे और दोनों ही ग्यारवीं के छात्र थे। इस मामले में अब आत्महत्या या फिर हत्याओं को लेकर सवाल खड़ा हो गया है। वहीं, शव मिलने के बाद गुरुवार को दोपहर बाद पुलिस ने दोनों शवों की परिजनों की मौजूदगी में शिनाख्त करवा कर पोस्टमार्टम के लिए मंडी अस्पताल भेज दिया। उधर, शव मिलने के बाद दोनों नाबालिगों के परिजनों ने मौके पर हंगामा भी किया। बता दें कि पंडोह घ्राण पंचायत के दोनों नाबालिग छात्र छात्रा 11वीं कक्षा में एक साथ पढ़ते थे।

वहीं कुछ दिन पहले ही दोनों लापता हुए थे। परीक्षा देने के बाद छात्रा-छात्र के साथ अपने घर के लिए गई थी, लेकिन लड़की वालों के अनुसार वो घर नहीं पहुंची थी, जिसके बाद लड़की सुनीता के दादा योगराज ने 25 मार्च चंद्रेश नाम के लड़के पर पोती को अगवा करने की शिकायत दर्ज करवाई थी। जबकि लड़की की मां ने 28 मार्च को उसके बेटे का किसी अज्ञात शख्स द्वारा अपहरण करने की शिकायत पंडोह पुलिस चौकी में दर्ज करवाई थी, जिसके बाद पुलिस की तलाश जारी थी। दोनों की मोबाइल डिटेल भी पुलिस ने ली थी, जिससे दोनों के आपस में संबंध की जानकारी पुलिस को मिली थी। हालांकि अभी तक इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई, लेकिन क्षेत्र में भी लोग प्रेम प्रसंग को लेकर चर्चाएं कर रहे हैं।अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कुलभूषण वर्मा ने खबर की पुष्टि की है। मिली जानकारी के अनुसार दोनों का आपस में प्रेस प्रसंग माना जा रहा है, जिसके चलते ही वे घर से भागे थे। पुलिस अधिक्षक मंडी प्रेम ठाकुर ने घटना स्थल का दौरा किया और स्थिति का जाएजा लिया। ठाकुर ने बताया कि पुलिस मामले की गहनता से छानबीन करेगी। हालांकि इस मामले में पुलिस की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाये जा रहे हैं। पुलिस पर समय रहते कार्यवाही ना करने का आरोप है। सूत्रों की मानें तो युवक के परिवार वालों को भी लड़की वालों पर पहले से ही संदेह था और वो पुलिस के पास सहायता के लिए गए भी थे। लेकिन पुलिस नें कोई कार्यवाही नहीं की। युवक के परिवार वालों को युवती के परिवार वालों पर संदेह है। उनके अनुसार संभावना ये है कि लड़की वालों नें ही दोनों की ह्त्या कर शवों को व्यास नदी के किनारे फेंका है। प्रत्यक्ष दर्शियों के अनुसार लड़की की गर्दन पर चोट के भी निशान थे। फिलहाल मामला जांच का है और जांच के बाद ही सभी तथ्य सामने आ पाएंगे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Bitnami