गधे बेचकर देश चला रहा पाकिस्तान, इमरान खान ने नियुक्त किया नया गवर्नर

पाकिस्तान सरकार ने पहले स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान (State bank of Pakistan) के गर्वनर को उनके पद से हटा दिया।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): गहरे आर्थिक संकट की वजह से पाकिस्तानी अर्थव्यवस्था का खस्ताहाल अब किसी से छुपा नहीं है। इसी से उबरने के लिए पाकिस्तानी सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है। कुछ दिन पहले अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की टीम पाकिसतान को 6-8 अरब डॉलर देने की राहत पैकेज देने से पहले दौरा करने गई थी। अब पाकिस्तानी सरकार ने बीते 24 घंटों में दो बड़े फैसले लिए हैं। पाकिस्तान सरकार ने पहले स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान (State bank of Pakistan) के गर्वनर को उनके पद से हटा दिया। इसके ठीक बाद फेडरल बोर्ड ऑफ रेवेन्यू (एफबीआर) के प्रमुख को भी अपने पद से हाथ धोना पड़ा है। हालांकि, देर रात को पाक सरकार ने स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान के नए गवर्नर की घोषणा भी कर दी है। लेकिन, एफबीआर प्रमुख की नियुक्ति नहीं की गई है। पाकिस्तान सरकार ने आईएमएफ के डॉर रेज़ा बक़ीर ( Rezq Baqir ) को स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान (एसबीपी) का नया गवर्नर नियुक्त किया है। बक़ीर ने यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्नियां से इकोनॉमिक्स में पीएचडी की डिग्री ली है। इसके साथ बीते 16 सालों से वो आईएमएफ के साथ जुड़े हुए हैं। रेज़ा बक़ीर आईएमएफ के डेट पॉलिस के प्रमुख भी रहे हैं और साथ ही एक्सटर्नल डेट सस्टेनिबिलीटी व सदस्य देशों की रिस्ट्रक्चरिंग पर भी काम किया है। बताते चलें कि एसबीपी के गर्वनर तारिक बाजवा और एफबीआर के चेयरमैन जहांजेट खान को उनके पद से हटाए जाने के बारे में गत शुक्रवार को ही संकेत मिले थे। पाकिस्तानी अंग्रेजी अखबार ‘द डॉन’ ने इसके बारे में पुष्टि की थी। हालांकि, बाजवा ने इस पुष्टि कर दी थी कि उन्हें सरकार ने इस्तीफा देने को कहा है। उन्हें सरकार की तरफ से यह बात तब कहा गया जब आईएमएफ के प्रतिनिधिमंडल से राहत पैकेज पर चर्चा करने के लिए वो राजधानी इस्लामाबाद में ही थे। उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान ने अपनी अर्थव्यवस्था को बचाने के लिए आईएमएफ से 8 अरब डॉलर का पैकेज मांगा है। डूबती अर्थव्यवस्था को बचाने के लिए पाकिस्तान चीन और सऊदी अरब जैसे मित्र देशों से इस वित्त वर्ष में अब तक करीब 9.1 अरब डालर का कर्ज ले चुका है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.